दन्तेवाड़ा

भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की, जन्म जयंती पर बीजेपी ने की श्रद्धांजलि अर्पित

चंद्रकांत क्षत्रिय ,दंतेवाडा । सभी के लिए समावेशी विकास सुनिश्चित करने और अपने नागरिकों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के प्रयास में भारत सरकार ने आकांक्षी जिलों का परिवर्तन कार्यक्रम शुरू किया है । इसके लिए नेशनल इंस्टीट्यूशन फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया (NITI Aayog) ने समग्र सूचकांक का उपयोग करते हुए पिछड़े जिलों की सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना, प्रमुख स्वास्थ्य एवं शिक्षा छेत्र के प्रदर्शन के बुनियादी ढांचे की स्थिति को देखते हुए उन जिलों के विकास पर युद्ध स्तर के तौर पर मॉनिटरिंग कर रही है ।

इन्ही आकांक्षी जिलों में अति संवेदनशील जिले बीजापुर, दंतेवाड़ा सुकमा एवं मलकानगिरी का दौरा एक ही दिन में दंतेवाड़ा सह प्रभारी जी वेंकट ने किया, लगातार वे इन जिलों का भ्रमण कर रहे हैं और कार्यकर्ताओं के संपर्क में है, उन्होंने कल 24 घंटे के भीतर इन जिलों में प्रवास करके डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जन्म जयंती पर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए और इन जिलों के कार्यकर्ताओं से भेंट मुलाकात किया ।

कुछ दिन पूर्व ही उन्हें दंतेवाड़ा जिला संगठन के सह प्रभारी के तौर पर जिम्मेदारी मिली है, पूर्व में जब दंतेवाड़ा, बीजापुर सुकमा संयुक्त जिला हुआ करता था तब संगठन के विभिन्न दायित्व में रहकर पार्टी को मजबूत बनाने कार्यकर्ताओं के साथ सामंजस्य बनाकर कठिन परिश्रम किया पूर्व में वे दंतेवाड़ा के कार्यकर्ताओं के साथ कार्य कर चुके हैं इसलिए वे दंतेवाड़ा के भौगोलिक राजनीति से भलीभांति परिचित है और पार्टी कार्यकर्ताओं का यह मानना है कि निश्चित तौर पर संघर्षिल श्री वेंकट के सह प्रभारी बनाए जाने के बाद से दंतेवाड़ा में पार्टी कार्यकर्ताओ में नयी ऊर्जा का संचार हुआ है और लगातार दंतेवाड़ा जिला के विभिन्न कार्यक्रमों में तथा संवेदनशील बूथों तक पहुंच वे कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ा रहे है ।

श्री वेंकट ने कहा कि आकांछी जिलों के विकास के लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार स्वयं मॉनिटरिंग कर रहे हैं, इसी तारतम्य में कुछ दिन पूर्व केंद्रीय मंत्रियों ने भी इन जिलों का दौरा किया और इन जिलों के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठकर जिले में होने वाले विकास कार्यों की समीक्षा की, माननीय नरेंद्र मोदी गरीब,शोषित, वंचित, दलित,पिछड़ा वर्ग तथा जनजाति समुदाय के विकास के प्रति सदैव समर्पित रहे हैं उनकी दूरदर्शी सोच से ही इन जिलों का विकास तेजी से आगे बढ़ रहा है एवं यह जिले नए कीर्तिमान रच अंतर्राष्ट्रीय तर्ज पर भारत को एक विकसित देश की पहचान दिलाने की गति को तेजी से आगे बढ़ा रहे है ।

साथ ही उन्होंने भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जन्म जयंती पर इन जिलों में हुए विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल हुए तथा वृक्षारोपण किया । वीर बलिदानी डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए श्री वेंकट ने कहा राष्‍ट्रीय एकता, अखण्‍डता व संप्रभूता के लिए अपने प्राण न्‍योछावर करने वाले, भारतीय जनसंघ के संस्थापक एवं सिद्धांतवादी राजनीतिज्ञ परम श्रद्धेय डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी जी की जयंती पर उनके द्वारा दिया गया “एक देश, दो विधान, दो निशान, दो प्रधान नहीं चलेंगे का अमर संदेश भारत की एकता अखण्‍डता को अक्षुण्‍ण रखने में सदैव हम सभी को प्रेरित करेगा।

विज्ञापन Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!